एक बार पुनः चला जिद्दी दुकानों पर बुलडोज़र

अतिक्रमण के मसले पर कुछ प्रश्न पाठकों से भी !

0
813

सहारनपुर। 18 दिसंबर – नगर की बिगड़ी यातायात व्यवस्था में सुधार का लक्ष्य लेकर आज प्रशासनिक अमला पुलिसबल को साथ लेकर अतिक्रमण हटाने के लिये निकला तो कुछ बाजारों में अफरा-तफरी का माहौल हो गया।

आज नगर मजिस्ट्रेट राकेश कुमार गुप्ता व नगर निगम के अधिकारी अमीन अहमद के नेतृत्व में घंटाघर पर पुलिस, पी.ए.सी. व निगम अधिकारियों के साथ जैसे ही पहुंचे तो चौक घंटाघर पर अफरा तफरी मच गयी और जेसीबी मशीन को देख लोगों ने अपना सामान समेटना शुरू कर दिया और रेहडी वाले तो अपनी रेहडियों को लेकर वहां से चलते बने।

अभियान श्रीराम चौक से आरंभ हुआ जैसे ही जेसीबी मशीन ने एक दुकान के थड़े को तोड़ना चाहा तो व्यापारियों ने इस कार्यवाही का विरोध् करते हुए कहा कि उन्हें पहले सूचना दी जानी चाहिए थी लेकिन निगम की ओर से कोई भी संकेत नही दिया गया जिस पर अधिकारियों ने व्यापारियों को चेताते हुए कहा कि समय-समय पर अतिक्रमण हटाओ अभियान चलाया जायेगा जिसके लिए बार-बार सूचना नहीं दी जायेगी और उसके बाद विभागीय अधिकारियों ने अतिक्रमण अभियान शुरू किया जो श्रीराम चौक, प्रताप मार्किट, चकरौता रोड, विजय सिनेमा तक चलाया जायेगा इस दौरान कई लोगों के चालान काटे गये और भविष्य में अतिक्रमण करने पर कड़ी कार्यवाही की चेतावनी भी दी गयी।

अतिक्रमण के विषय पर हमारे विवेकशील पाठकों से कुछ प्रश्न –
१) आपकी दृष्टि में नगर निगम व प्रशासनिक अधिकारी वास्तव में अतिक्रमण हटाने के इच्छुक हैं या सिर्फ समय – समय पर औपचारिकता का निर्वहन करते दिखाई देते हैं?
२) क्या अतिक्रमण हटाओ अभियान के दौरान पक्षपात किया जाता है? क्या राजनीतिक हलकों में पहुंच रखने वाले किसी महत्वपूर्ण व्यक्ति का प्रतिष्ठान सामने आते ही अतिक्रमण हटाओ अभियान की हवा निकल जाती है या वह बदस्तूर जारी रहता है?
३) अतिक्रमण हटाओ अभियान समय-समय पर चलाये जाते हैं पर इसके बावजूद भी अतिक्रमण जस-का-तस बना रहता है। इसका कारण आपको क्या लगता है?
४) सड़कों पर अतिक्रमण का वास्तविक दोष किस पर है? दुकानदारों पर? हफ्ता वसूली वाली पुलिस पर या नगर निगम के कर्मचारियों व अधिकारियों पर? प्रताप मार्किट में मंगलवार को आधी सड़क घेर कर मोटरसाइकिल मार्किट कई सालों से फल-फूल रहा है, इसका उत्तरदायित्व किस पर है? क्या अतिक्रमण का स्थाई हल निकाले बिना सहारनपुर स्मार्ट सिटी बन सकता है?

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY