स्वामी विवेकानन्द जयन्ती आयोजन

शोभा यात्रा, पथ संचलन निकाल कर स्वामी विवेकानन्द का संदेश जन-जन तक पहुंचाया गया।

0
204

IMG-20170113-WA0051सहारनपुर 12 जनवरी – स्थानीय एम.एस. कॉलेज में राष्ट्रीय सेवा योजना की तृतीय इकाई के द्वारा राष्ट्रपुरुष स्वामी विवेकानन्द जी की 154 वीं जयन्ती धूमधाम से मनाई गई।  इस अवसर पर विद्यार्थियों को संबोधित करते हुए कालेज के प्राचार्य डा. ए.के. डिमरी ने उनको स्वामी विवेकानन्द जी की तरह देश के प्रति पूर्ण समर्पण का आशीर्वाद दिया।  उन्होंने कहा कि स्वामी विवेकानन्द जी के विचार हम सब में ऊर्जा और शक्ति का संचार करते हैं और चरैवेति! चरैवेति –  चलते रहो, चलते रहो और लक्ष्य तक पहुंचने से पहले रुको मत – हेतु प्रेरणा देते हैं।  उन्होंने स्वामी विवेकानन्द जी के जीवन के कुछ प्रेरक प्रसंग भी विद्यार्थियों को सुनाए।

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद्‌ ने भी स्वामी विवेकानन्द जी की जयन्ती पर राजकीय इंटर कॉलेज से आरम्भ करते हुए सहारनपुर नगर के विभिन्न मार्गों से होते हुए शोभायात्रा निकाली जिसका समापन घंटाघर पर शहीद भगत सिंह की मूर्ति पर माल्यार्पण के साथ हुआ।  उल्लेखनीय है कि स्वामी विवेकानन्द जी की जयन्ती को राष्ट्रीय युवा दिवस के रूप में मनाया जाता है।  इस अवसर पर संगठन की प्रदेश मंत्री रीतिका शर्मा, महानगर छात्रा प्रमुख ज्योति गुप्ता, विभाग छात्रा प्रमुख नेहा काम्बोज, महानगर संगठन मंत्री अर्पित अवस्थी तथा प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य मुकुल प्रताप त्यागी के साथ सैंकड़ों युवा इस शोभा यात्रा में शामिल हुए। छात्र शक्ति बने राष्ट्र शक्ति का उद्घोष करते हुए यह शोभायात्रा संपन्न हुई।  ज्योति सैनी, प्रिया ठाकुर, हर्षिता, प्रिया, आरती, शिवानी अखिल, हेमन्त, अभिषेक, शुभम तानिया, मोहित आदि उपस्थित रहे।

उधर रामपुर मनिहारान में भी अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद्‍ इकाई द्वारा गोष्ठी का आयोजन किया गया।  विभाग प्रमुख सतेन्द्र पंवार, जिला संयोजक अमरदीप कोरी ने कहा कि स्वामी विवेकानन्द जी ने भारतीय सनातन धर्म को विश्व भर के लिये शाश्वत्‍ धर्म बताते हुए कहा था कि हमें अपने धर्म के सात्विक रूप को वापिस पाने के लिये प्राणपण से प्रयास करने चाहियें और इसमें ढोंग, आडम्बर, छुआछूत जैसी बुराइयों के लिये कोई स्थान शेष नहीं रहना चाहिये।  मोहित, विशान, रजत, अंकुर, अरविन्द, मोनू, राहुल आदि का विशेष योगदान रहा।

नानौता, नागल, गंगोह, सढौली कदीम, अंबेहटा में भी स्वामी विवेकानन्द जी की 154 वीं जयन्ती धूमधान से मनाये जाने के समाचार मिल रहे हैं।  गंगोह में इस अवसर पर पथ संचलन भी निकाला गया जिसका नेतृत्व मेघ गोपाल गोयल, रमेश चन्द गर्ग, राकेश तायल, सत्येन्द्र त्यागी आदि ने किया।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY