ठोस कचरा प्रबन्धन हेतु प्रशिक्षण एवं प्रतियोगिता

छात्र-छात्राओं ने लिया संकल्प - न कचरा सड़क पर फेकेंगे, न किसी को फेंकने देंगे।

0
244

सहारनपुर : 1 मार्च :  “यदि सहारनपुर को स्मार्ट सिटी बनना है तो उसकी राह का सबसे बड़ा कांटा यानि गन्दगी से निपटना होगा और यह तभी हो सकता है जब सहारनपुर के नागरिक भी स्मार्ट बनें और अपने – अपने घरों से निकलने वाले कचरे को पहचानना सीखें। कौन सा कचरा खाद बनाने में उपयोग किया जा सकता है, कौन से कचरे को रद्दी वाले को दिया जाना है और कौन सा कचरा लैंड फिल साइट पर भेजा जायेगा, जब हम सब यह समझ जायेंगे और कूड़े की छंटनी घर में ही करने लगेंगे तो नगर निगम का काम भी आसान हो जायेगा और सड़कों, गलियों, मुहल्लों में दिखाई पड़ने वाला कूड़ा भी गायब हो जायेगा।“  यही उद्देश्य लेकर “द सहारनपुर डॉट कॉम” की टीम आजकल ऑडियो विज़ुअल माध्यम का उपयोग करते हुए नागरिकों को प्रशिक्षित और उत्साहित करने में लगी हुई है।

आज इसी संबंध में द सहारनपुर डॉट कॉम के सदस्यगण बेहट रोड पर देवला गांव में महाराज सिंह कालिज की राष्ट्रीय सेवा योजना तृतीय इकाई द्वारा आयोजित किये गये प्रशिक्षण शिविर में शामिल हुए और छात्र – छात्राओं और अध्यापिकाओं का आह्वान किया कि वह ठोस कचरे का वैज्ञानिक ढंग से निस्तारण करना सीख लें और फिर अपने अड़ोस-पड़ोस के परिवारों को भी सिखायें। सभी छात्र-छात्राओं ने संकल्प लिया कि न तो वह स्वयं सड़कों पर कूड़ा डालेंगे और अन्य लोगों को भी समझायेंगे कि वह सड़कों पर गन्दगी न फैलायें ।

इस अवसर पर “द सहारनपुर डॉट कॉम” के सदस्यों द्वारा तैयार किये गये प्रश्नोत्तरी कार्यक्रम में भी सभी छात्र-छात्राओं ने उत्साह से भाग लिया जिसमें अधिकतम सही उत्तर देने वाले 28 छात्र-छात्राओं को शिवालिक बैंक की ओर से डा. दीपा चौहान, प्रवक्ता व राष्ट्रीय सेवा योजना कार्यक्रम अधिकारी के हाथों पुरस्कार भी दिलाये गये।  इस अवसर पर द सहारनपुर डॉट कॉम की ओर से सुशान्त सिंहल, नीना धींगड़ा और प्रियंका त्यागी उपस्थित रहे।  पुरस्कार पाने वालों में स्वाति धीमान, असमा, साइमा प्रवीन, निशा पाल, प्रिया यादव, मनीषा, सागर कुमार, रोहित कुमार, अंजली, धृति रॉय, नरगिस, शुगुफ्ता, मयंक, आरती, रुबिना, अमानत यादव, करन सिंह, सौरभ, बरखा रानी, अंजना आदि रहे।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY